Wednesday, July 24th, 2024

घर बैठे कमाई का झांसा देकर 20.54 लाख रुपये की ठगी

नोएडा
 साइबर अपराधियों ने ग्रेटर नोएडा वेस्ट में रहने वाली एक महिला को घर बैठे शेयर बाजार और आईपीओ में निवेश करके लाखों रुपये कमाने का झांसा देकर उसके साथ कथित तौर पर 50 लाख रुपये से अधिक की ठगी की। घटना की रिपोर्ट साइबर अपराध थाने में दर्ज कराई गई है।

सहायक पुलिस आयुक्त (साइबर अपराध) विवेक रंजन राय के अनुसार पुलिस को दी गई शिकायत में एकता चैतन्य ने बताया कि कुछ समय पहले उन्होंने फेसबुक पर शेयर बाजार का एक विज्ञापन देखा था।

शिकायत के अनुसार जब उन्होंने इस पर क्लिक किया तो उन्हें एक व्हॉट्सऐप ग्रुप में जोड़ दिया गया जिसमें घर बैठे डिजिटल मार्केटिंग और ऑनलाइन ट्रेडिंग करके लाखों रुपये कमाने की बात कही गई थी।

महिला ने बताया कि ग्रुप में प्रतिदिन शेयर बाजार, आईपीओ को लेकर जानकारी दी जाती थी और इस दौरान कथित आरोपियों ने उनसे व्यक्तिगत बात करना शुरू कर दिया।

शिकायत के अनुसार उन्हें कथित रूप से कई कंपनियों के शेयर में लाखों रुपये निवेश करने का झांसा दिया गया और उन्होंने कुल 50 लाख 9 हजार रुपये निवेश कर दिया।

उन्होंने आरोप लगाया कि जब वह अपने मुनाफे की रकम वापस लेने लगीं तो जालसाजों ने उनके ट्रेडिंग खाते को बंद कर दिया और फिर कारोबार नहीं करने दिया।

घर बैठे कमाई का झांसा देकर 20.54 लाख रुपये की ठगी

 घर बैठे काम करके लाखों रुपये कमाने का झांसा देकर साइबर ठगों ने एक व्यक्ति से कथित रूप से 20,54,464 रुपये की ठगी कर ली। पीड़ित ने मामले की शिकायत साइबर अपराध थाने में की है।

सहायक पुलिस आयुक्त (साइबर अपराध) विवेक रंजन राय ने बताया कि शिकायत में ग्रेटर नोएडा निवासी संदीप कुमार ने बताया कि बीते दिनों उनके मोबाइल पर एक संदेश आया जिसमें घर बैठे काम कर लाखों रुपये प्रतिमाह कमाने की बात कही गई।

शिकायत के अनुसार उन्हें ‘गूगल मैप’ पर होटलों की रेटिंग कर पैसे कमाने की बात कही गई और शुरुआत में इस काम के लिए पैसे भी दिए गए।

उन्होंने आरोप लगाया कि इसके बाद बड़ा निवेश कर अधिक कमाने का झांसा दिया गया और उन्होंने 50 हजार रुपये की रकम निवेश की।

शिकायत में दावा किया गया है कि जब पीड़ित ने लाभ समेत अपनी रकम निकालनी चाही तो आरोपियों ने पांच लाख रुपये और निवेश करने के बाद ही पैसे वापस मिलने की बात कही।

पीड़ित ने आरोप लगाया कि इसके बाद ठगों ने कई बार में उनसे 20 लाख 54 हजार 464 रुपये जमा करा लिए। उन्होंने आरोपियों पर जान से मारने की धमकी देने का भी आरोप लगाया है।

अधिकारी ने बताया कि इस मामले में पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने अज्ञात जालसाजों के खिलाफ धोखाधड़ी और सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) अधिनियम की संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है।

 

 

Source : Agency

आपकी राय

12 + 2 =

पाठको की राय