Wednesday, April 17th, 2024

चुनाव के बाद उनके तीसरे कार्यकाल में भ्रष्टाचार पर प्रहार और तेज होगा : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

नई दिल्ली
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि भ्रष्टाचार से गरीबों और मध्यम वर्ग का हक छिनता है और चुनाव के बाद उनके तीसरे कार्यकाल में भ्रष्टाचार पर प्रहार और तेज होगा । उत्तराखंड में 19 अप्रैल को होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार की शुरूआत करते हुए प्रधानमंत्री ने रुद्रपुर में 'विजय शंखनाद' रैली को संबोधित किया। उन्होंने कहा, ‘‘तीसरे कार्यकाल में भ्रष्टाचार पर और तेज प्रहार होगा। यह गारंटी मैं आपको देने आया हूं।''

'मैं किसी का हक किसी को छीनने नहीं दूंगा'
उन्होंने कहा, ‘‘भ्रष्टाचार से हर गरीब का हक छिनता है, हर मध्यम वर्ग का हक छिनता है और मैं किसी का हक किसी को छीनने नहीं दूंगा।'' प्रधानमंत्री ने कहा कि आने वाले पांच साल अभूतपूर्व काम और बड़े फैसलों के लिए होंगे लेकिन उसके लिए जनता को उन्हें और मजबूत करना होगा। विपक्ष पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि विपक्षी गठबंधन ‘इंडी' ने अपने इरादे साफ कर दिए हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के शाही परिवार के शहजादे ने ऐलान किया है कि अगर देश ने तीसरी बार भाजपा सरकार को चुना तो आग लग जाएगी।

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस का जमकर घेरा
प्रधानमंत्री ने कहा कि 60 साल तक देश पर राज करने वाले 10 साल सत्ता से बाहर रहते ही देश में आग लगाने की बात कर रहे हैं। उन्होंने लोगों से पूछा कि क्या वे ऐसे लोगों को सजा नहीं देंगे और चुन-चुन कर ऐसे लोगों को मैदान से बाहर नहीं करेंगे? मोदी ने कहा कि इमरजेंसी की बात करने वाली कांग्रेस को लोकतंत्र पर भरोसा नहीं बचा है और इसलिए वह जनादेश के विरूद्ध लोगों को भड़काने में जुट गयी है। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस देश को अस्थिरता की तरफ ले जाना चाहती है और अराजकता में झोंकना चाहती है।

घुसपैठियों को तो बढ़ावा देती है कांग्रेस
उन्होंने कांग्रेस की आलोचना करते हुए कहा कि दक्षिण भारत को देश से अलग करने की बात कहने वाले कर्नाटक के अपने एक बड़े नेता को सजा देने की बजाय उसने उसे चुनाव में टिकट दे दिया। मोदी ने कहा कि कांग्रेस तुष्टिकरण के दलदल में ऐसी धंस गयी है कि कभी देशहित के बारे में सोच ही नहीं सकती। इस संबंध में उन्होंने सीएए का जिक्र करते हुए कहा कि कांग्रेस घुसपैठियों को तो बढ़ावा देती है, लेकिन जब भाजपा देश में आस्था रखने वालों शरणार्थियों को भारत की नागरिकता देती है तो उसे तकलीफ होती है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान और बांग्लादेश से जो शरणार्थी आए हैं,उनमें से अधिकतर दलित परिवार हैं लेकिन कांग्रेस इन्हें नागरिकता देने का विरोध कर रही है। हालांकि उन्होंने कहा, ''कांग्रेस इसका कितना भी विरोध करे, इन लोगों के पास मोदी की गारंटी है।''

Source : Agency

आपकी राय

6 + 13 =

पाठको की राय