Sunday, March 3rd, 2024

तीन लोग करते थे चंदन तस्करी, एक को पुलिस ने दबोचा

50 हजार की गीली चंदन लकड़ी जब्त,

मुलताई

बेल नदी के पास से चंदन के वृक्षों को काटकर प्रभात पट्टन ब्लॉक के तीन लोग तस्करी करते थे जिसमें से एक को पुलिस ने नगर के अमरावती रोड पर धर दबोचा। पुलिस द्वारा पकड़ाए गए युवक के पास से लगभग 10 किलो चंदन की गीली लकड़ी जब्त की गई जिसका मूल्य लगभग 50 हजार रूपए बताया जा रहा है। पुलिस द्वारा आरोपी रामभाऊ पिता नत्थू  भूमरे निवासी सोमगढ़ पर भारतीय वन अधिनियम 1927 की धारा 42 के तहत कार्रवाई की गई है। पकड़ाए गए आरोपी रामभाऊ ने बताया कि वह विनोद भलावी निवासी सोमगढ़ तथा उमनपेठ निवासी सुरेश के साथ मिलकर बेल नदी के किनारे से चंदन की लकडिय़ॉ काट कर लाता था तथा प्रभात पट्टन में कुछ लोगों को बेच देता था जिससे उसको खासी आय हो जाती थी। रविवार रात को वह उसके साथियों के साथ बेल नदी के किनारे से गीली चंदन की लकड़ी काट कर लाया था तथा सुबह प्रभात पट्टन ले जा रहा था इसी दौरान अमरावती रोड पर पुलिस ने उसे पकड़ लिया वहीं उसके साथी भाग गए। पुलिस के अनुसार आरोपी रामभाऊ सीमेन्ट की बोरी में गीली चंदन की लकड़ी के लगभग 10 किलो टुकड़े लेकर जा रहा था जिससे जब्त कर आरोपी पर कार्रवाई की गई है।
दो हजार रूपए किलो बेचते थे चंदन की लकड़ी
पकड़ाए गए आरोपी रामभाऊ ने बताया कि वह और उसके साथी चंदन की लकड़ी लाकर प्रभात पट्टन के कुछ लोगों को दो हजार रूपए किलो बेचते थे। वहीं पुलिस के अनुसार 10 किलो चंदन की लकड़ी का बाजार मूल्य लगभग 50 हजार रूपए है जिससे सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि उक्त लोगों से चंदन की लकड़ी खरीदने वाले लोग कितना अधिक मुनाफा कमा के बेचते थे। बताया जा रहा है कि प्रभात पट्टन क्षेत्र में जमकर चंदन की तस्करी की जा रही है तथा बड़ी संख्या में लोग चोरी छिपे इस तस्करी में शामिल हैं जिसमें रातों-रात चंदन के वृक्षों को काट दिया जाता है तथा फिर जमकर मुनाफा कमाया जाता है। फिलहाल आरोपी से पुलिस द्वारा पूछताछ की जा रही है।

Source : Rakesh Agrawal/Akshay soni

आपकी राय

6 + 5 =

पाठको की राय