Wednesday, April 17th, 2024

BJP की पहली सूची तैयार, किसी भी समय हो सकता है एलान; 150 उम्मीदवारों के नाम पर लगी मुहर

नई दिल्ली

भारतीय जनता पार्टी इस सप्ताह के अंत तक लोकसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी कर सकती है। बीजेपी नेता ने इसकी जानकारी दी है। भगवा पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति (सीईसी) की मैराथन बैठक में कई उम्मीदवारों के नाम तय जा चुके हैं। एक भाजपा नेता ने कहा कि फिलहाल यह कह पाना मुश्किल है कि कितने उम्दीवारों के नाम पहली लिस्ट में होगी, लेकिन यह सूची काफी महत्वपूर्ण होने की उम्मीद है।

 बीजेपी सूत्रों के हवाले से कहा है कि इस सूची में कुछ हाई-प्रोफाइल नाम शामिल होने की संभावना है। पहली लिस्ट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के साथ-साथ ऐसी सीटों पर भी उम्मीदवारों की घोषणा की जा सकती है, जहां 2019 में बीजेपी चुनाव हार गई थी। बीजेपी की यह प्लानिंग है कि ऐसी सीटों पर उम्मीदवारों को प्रचार करने और मतदाताओं तक पहुंचने के लिए पर्याप्त समय मिले।

भाजपा ने ऐसी कमजोर सीटों के लिए अनौपचारिक रूप से प्रभारी भी तैनात कर दिए हैं। एक नेता ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि यूपी में बीजेपी महासचिव सुनील बंसल उन सीटों पर अतिरिक्त ध्यान दे रहे हैं जो पिछली बार पार्टी हार गई थी। पार्टी को इन निर्वाचन क्षेत्रों में जीत की उम्मीद है। अयोध्या में राम मंदिर उद्घाटन और राष्ट्रीय लोक दल (आरएलडी) के एनडीए में शामिल होने के बाद बीजेपी को 2019 की तुलान में बेतहर प्रदर्शन की उम्मीद है।

150 उम्मीदवारों के नाम पर लगी मुहर

बैठक में 16 राज्यों के 250 से अधिक सीटों पर विस्तृत चर्चा हुई और लगभग 150 उम्मीदवारों के नाम पर मुहर लग गई। इनके नामों का ऐलान कभी भी हो सकता है। हाल ही में हुए राज्यसभा चुनाव के लिए भाजपा ने मनसुख मांडविया, भूपेंद्र यादव, राजीव चंद्रशेखर, धर्मेंद्र प्रधान, पुरुषोत्तम रुपाला समेत कई मंत्रियों और सांसदों को दोबारा नामांकित नहीं किया था। इन्हें इनके संबंधित राज्यों से ही टिकट देने का फैसला किया गया है।
पहली लिस्ट में किन-किन को मिलेगा टिकट

पहली सूची में इनमें से कई के नाम शामिल हैं। इसके साथ ही पहली सूची में कुछ विधायकों के नाम भी पर मुहर लगी है, जिन्हें राज्य से राष्ट्रीय राजनीति में लाने की तैयारी है। ऐसे विधायक उत्तर प्रदेश से समेत झारखंड व अन्य राज्य राज्यों से हो सकते हैं। पहली सूची में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और गृहमंत्री अमित शाह जैसे वरिष्ठ नेताओं को भी शामिल किया है, जो चुनाव प्रचार के दौरान सिर्फ अपने क्षेत्र तक सीमित नहीं रहते हैं और पूरे देश में चुनाव प्रचार करते हैं। ऐसे नेताओं को उनके मौजूदा सीट से टिकट दिया जा रहा है।
सांसदों के टिकट कटने की भी आशंका

सूत्रों के अनुसार, पहली सूची में बहुत सारी ऐसी सीटें शामिल हैं, जिन्हें भाजपा मुश्किल मानती है। इनमें वे सीटें भी शामिल हैं, जो पिछली बार पार्टी नहीं जीत पाई थी। पार्टी ने ऐसी 160 सीटों के लिए अलग से रणनीति बनाई थी और वरिष्ठ नेताओं और केंद्रीय मंत्रियों को इसकी जिम्मेदारी सौंपी गई थी। चुनाव की घोषणा के पहले ऐसी सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा से उन्हें प्रचार का अधिक समय मिल जाएगा और घोषणा के पहले चुनाव प्रचार का खर्च उनके खाते में भी शामिल नहीं होगा। बताया जा रहा है कि उत्तरप्रदेश में भाजपा ने आधी सीटों पर उम्मीदवारों का चयन कर लिया है और बड़ी संख्या में मौजूदा सांसदों के टिकट कटने की आशंका से भी इनकार नहीं किया जा सकता है। पार्टी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि उम्मीदवारों के चयन में जातीय और सामाजिक समीकरणों का खास ख्याल रखा गया है।

भाजपा के अन्य पदाधिकारी ने बताया कि पार्टी ने चुनाव आयोग (ईसी) द्वारा चुनाव कार्यक्रम घोषित करने से पहले ही मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावों के लिए उम्मीदवारों की घोषणा कर दी थी। दोनों ही राज्यों में बीजेपी को इसका लाभ मिला था।

सूत्रों के मुताबिक, पहली लिस्ट में यूपी की करीब 20 सीटों के लिए उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की जा सकती है। पार्टी द्वारा आरएलडी के लिए दो सीटें छोड़ने की उम्मीद है। इसके अलावा, अपना दल (एस) के लिए एक या दो सीटें, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) के लिए एक और निषाद पार्टी के लिए एक सीट छोड़ने की भी उम्मीद है।

भाजपा नेतृत्व को हरियाणा की सभी 10 सीटों के लिए संभावित उम्मीदवारों का पैनल मिल गया है। इससे राज्य में एनडीए के भविष्य पर सवालिया निशान लग गया है। दुष्‍यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) एनडीए की सहयोगी और सत्तारूढ़ गठबंधन का हिस्सा है।  हरियाणा के एक भाजपा नेता ने नाम न छापने की शर्त पर कहा, “हमने सभी 10 सीटों के लिए नामों का एक पैनल दिया है। अब यह केंद्रीय नेतृत्व पर निर्भर है कि वह जेजेपी के लिए एक सीट छोड़ना चाहता है या नहीं। यह फैसला हम नहीं ले सकते हैं।'' आपको बता दें कि 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने हरियाणा की सभी 10 सीटों पर जीत हासिल की थी।

बीजेपी हलकों में इस बात की जोरदार चर्चा है कि मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान को विदिशा से मैदान में उतारा जा सकता है। सूत्रों ने कहा कि पहली लिस्ट में बीजेपी मध्य प्रदेश के लिए लगभग सभी उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर सकती है । छत्तीसगढ़ में चर्चा है कि पहली सूची में दो आदिवासी बेल्ट सरगुजा और बस्तर की सीटों के लिए उम्मीदवारों के नाम शामिल होने की संभावना है।

 

Source : Agency

आपकी राय

6 + 3 =

पाठको की राय