Wednesday, April 17th, 2024

क्या आप एक किडनी के साथ जी सकते हैं? जानें इसके बारे में

हमारे शरीर में कइ्र ऑर्गन जोड़े के साथ बने हुए हैं और इन दोनों का भी बॉडी फंक्शन में बहुत अहम भूमिका होती है, जिसमें से एक किडनी भी है। कई लोगों में किडनी खराब या कुछ मेडिकल कारणों से एक किडनी हटा दी जाती है। तो ऐसे में उस व्यक्ति को एक सिंगल किडनी के साथ ही जीवन चलाना होता है। एक किडनी के साथ लोगों जीवन का डर भी बढ़ जाता है। तो ऐसे में लाइफस्टाइल मेंटेन कर के एक खुशहाल जीवन जिया जा सकता है।

नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार सिंगल किडनी के साथ लाइफस्टाइल अगर हेल्दी हो, व्यक्ति में किडनी की कमी से संबंधित कोई बड़ी शारीरिक परेशानी नहीं आती है। सब कुछ आपके लाइफस्टाइल निर्भर करता है। आज इस आर्टिकल में समझें कैसे सिंगल किडनी के साथ हेल्दी रहा जा सकता है।

यूरिन इन्फेक्शन से बचें

यूरिन इंफेक्शन से बचने के लिए हर जरूरी बात का ध्यान रखें। अगर आप में यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन के लक्षण नजर आ रहे हैं, तो जल्द से जल्द इसका इलाज करवाएं। इंफेक्शन को आगे बढ़ने दें। इंफेक्शन से बचाव के लिए पब्लिक टॉयलेट के इस्तेमाल से बचें। यहां पर सबसे ज्यादा खतरा होता है संक्रमण का।

सोडियम का सेवन कम करें

नमक का ज्यादा सेवन वैसे तो सभी को मना होता है, लकिन जिन लोगों का किडनी ट्रांसप्लांटेशन हुआ है या एक किडनी निकाल दी गई है, उन लोगों को खासतौर से अपनी डाइट में से सोडियम और फास्फोरस को कम कर देना चाहिए। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि आपकी किडनी इन्हें सही ढंग से रक्त से अलग नहीं कर पाएगी।

हाई प्रोटीन डाइट से दूर रहें

किडनी के मरीज या एक किडनी वाले व्यक्ति अपनी डाइट में इस बात का विशेष ध्यान रखें कि वो हाई प्रोटीन डाइट न लें, क्योंकि अब सारा बोझ आपकी एक ही किडनी पर है। एक किडनी हाई प्रोटीन का मात्रा को बहुत अच्छे से रिफाइन नहीं कर पाएगी। पूरा प्रेशर एक किडनी पर आ जाएगा। इसलिए कोशिश करें कि पनीर, दाल, साबुत अनाज आदि का कम ही मात्रा में सेवन करें। सबसे खास बात किसी प्रकार का प्रोटीन शेक गलती से भी न लें।

डायबिटीज और ब्लड प्रेशर कंट्रोल रखें

डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों में किडनी खराब होने का खतरा ज्यादा होता है और उसमें एक किडनी होती है, उनमें यह रिस्क और भी ज्यादा बढ़ जाता है। इसलिए डायबिटीज और ब्लड प्रेशर को अच्छी डाइट और दवाओं से कंट्रोल में रखें। समय-समय पर चेकअप जरूर करवाते रहें।

स्मोकिंग और अल्कोहल से दूर रहें

किडनी के मरीज खासतौर पर जो सिंगल किडनी के साथ है, उन्हें स्मोकिंग और अल्कोहल से दूर रहने की सलाह दी जाती है। स्मोकिंग और अल्कोहल के सेवन से किडनी की स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है, जिसके कारण उसकी किडनी की कार्यक्षमता कम हो सकती है।

नियमित व्यायाम

सिंगल किडनी के साथ लाइफस्टाइल को हेल्दी रखने के लिए नियमित योग ए एक्सरसाइज या वॉक करें। योग किडनी की सेहत और कार्यक्षमता में सुधार करता है। एक्सरसाइज से डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर का खतरा भी कम हो जाता है। नियमित व्यायाम करना भी किडनी के रोगियों के लिए फायदेमंद हो सकता है।

Source : Agency

आपकी राय

1 + 5 =

पाठको की राय