Saturday, March 2nd, 2024

'एक छात्र आत्महत्या करने वाला है, उसे बचा लीजिए...', यूपी पुलिस से कोटा पुलिस को मिला मैसेज

कोटा.

शनिवार दोपहर उत्तरप्रदेश पुलिस से मिले मैसेज में कहा गया था कि कोटा में एक कोचिंग स्टूडेंट सुसाइड करने वाला है। प्लीज, उसे बचा लीजिए। वह महाराष्ट्र के नासिक का रहने वाला है और कुछ दिन पहले कोटा आया है। उसका नाम .... है। इसके बाद एसपी शरद चौधरी के निर्देशन में पुलिस महकमे ने तुरंत कार्रवाई की। पुलिस के पास स्टूडेंट के नाम के साथ केवल यह जानकारी थी कि वह 10 दिन पहले ही कोटा आया था। रोजाना कोचिंग नहीं जा रहा था लेकिन वह किस कोचिंग में पढ़ता है। कोटा में कहां रहता है, इसकी कोई जानकारी पुलिस के पास नहीं थी।

इस पर पुलिस ने 4 एसपी और डीएसपी को अलग-अलग टीमों में बांटकर छात्र के नाम के आधार पर छानबीन शुरू की। सबसे पहले पुलिस ने नाम के आधार पर उसके एडमिशन और कोटा में रहने की जगह पता की। साथ ही टेक्निकल मदद से उसकी लोकेशन का पता लगाया जो कि अलग-अलग जगह की आ रही थी। पुलिस ने करीब 3 घंटे तक इन इलाकों में छानबीन की लेकिन छात्र नहीं मिला। इसके बाद पुलिस का शक एक ऐसी बिल्डिंग पर गया, जहां उसके होने का अनुमान था। पुलिस की टीम ने तुरंत वहां पहुंचकर देखा तो छात्र वहां मिल गया।

कोटा एसपी शरद चौधरी ने जानकारी देते हुए बताया कि वाराणसी पुलिस के साइबर सेल से हमें इनपुट मिला था कि यूपी में एक बच्चे ने सुसाइड किया है और उसके मोबाइल में लिखे कंटेंट से पता चल रहा था कि कोटा में भी छात्र आत्महत्या करेगा। यूपी पुलिस से मिले इनपुट के आधार पर स्थानीय पुलिस ने कार्रवाई करते हुए छात्र को अप्रिय कदम उठाने से रोक लिया। छात्र डिप्रेशन का शिकार था, जिसके चलते  काउंसलिंग की गई। साथ ही उसके परिजनों की भी काउंसलिंग करवाई गई। फिलहाल परिजन छात्र को लेकर वापस लौट गए हैं।

Source : Agency

आपकी राय

6 + 15 =

पाठको की राय