Wednesday, April 17th, 2024

मध्यप्रदेश की टीम रणजी ट्रॉफी सेमीफाइनल में विदर्भ के खिलाफ उतरेगी तो उसके गढ में हराना आसान नहीं होगा

नागपुर
मध्यप्रदेश की टीम शनिवार से शुरू हो रहे रणजी ट्रॉफी सेमीफाइनल में विदर्भ के खिलाफ उतरेगी तो आत्मविश्वास से ओतप्रोत मेजबान को उसके गढ में हराना आसान नहीं होगा। दो बार के चैम्पियन विदर्भ ने वीसीए स्टेडियम पर इस सत्र में चार मैच खेलकर तीन जीते और सौराष्ट्र के खिलाफ एकमात्र मैच गंवाया है। उसने सेना को सात विकेट से, हरियाणा को 115 रन से और कर्नाटक को क्वार्टर फाइनल में 127 रन से मात दी। विदर्भ की ताकत उसके बल्लेबाजों का शानदार फॉर्म रही है। करूण नायर (515 रन), ध्रुव शोरे (496 रन), अथर्व तायडे (488 रन) और कप्तान अक्षय वाडकर (452 रन) सभी ने रन बनाये हैं।

नागपुर की पिच बल्लेबाजों की मददगार रही है लेकिन विदर्भ के दो गेंदबाजों तेज गेंदबाज आदित्य ठाकरे और बायें हाथ के स्पिनर आदित्य सरवटे ने शानदार प्रदर्शन करते हुए मिलकर 68 विकेट चटकाये हैं। दूसरी ओर 2022 की चैम्पियन मध्यप्रदेश टीम ने आठ लीग मैचों में तीन जीत दर्ज की और बाकी में पहली पारी की बढत हासिल की। आंध्र के खिलाफ क्वार्टर फाइनल में भी हार की कगार पर पहुंचकर उसने चार रन से जीत दर्ज की।

मध्यप्रदेश के लिये वेंकटेश अय्यर तुरूप का पत्ता साबित हुए हैं जिन्होंने 528 रन बनाये। हिमांशु मंत्री ने 513 और यश दुबे ने 510 रन जोड़े हैं। टीम को रजत पाटीदार की कमी नहीं खली जो इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला में भारतीय टीम में हैं।

गेंदबाजी में कुमार कार्तिकेय ने फिरकी का अच्छा जाल बुना है। वह इस सत्र में 38 विकेट ले चुके हैं। स्पिनर सारांश जैन ने 27 और बायें हाथ के तेज गेंदबाज कुलवंत खेजरोलिया ने 26 विकेट चटकाये हैं। मध्यप्रदेश के पास चंद्रकांत पंडित जैसा कुशल कोच है जो 2017.18 और 2018.19 में विदर्भ को खिताब दिला चुके हैं।

 

Source : Agency

आपकी राय

8 + 9 =

पाठको की राय