Wednesday, April 17th, 2024

महिला पशु चिकित्सकों का भोपाल में अधिवेशन शुरू

भोपाल

प्रदेश में पहली बार हो रहे महिला पशु चिकित्सक अधिवेशन ‘भव्या 2024’ का शुभारंभ शनिवार को प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा और उच्च शिक्षा एवं आयुष मंत्री इंदर सिंह परमार ने किया। इस मौके पर वीडी शर्मा ने कहा कि प्रदेश के पशु चिकित्सक लगातार बेहतर काम कर रहे है। प्रदेश का किसान अगर आज आत्मनिर्भर बन रहा है तो उसमें सबसे बड़ी भूमिका पशु चिकित्सकों की है।

पशुओं से संबंधित जब भी कोई बीमारी आती है तब यह पशुचिकित्सक डॉक्टर अपने कर्तव्य से कभी पीछे नहीं हटते है। भोपाल के पशुपालन एवं डेयरी संचालनालय के सभागार में आयोजित हो रहे दो दिवसीय इस आयोजन में प्रदेश भर की महिला पशु चिकित्सक शामिल हुई है। शनिवार से शुरू हुए इस अधिवेशन में महिलाओं का जहां पशुओं के प्रति  नैसर्गिक महत्व एवं सहिष्णुता के चलते महिलाओं में पशुपालन के प्रति बढ़ते रूझान को बताया जाएगा, वहीं महिला पशु चिकित्सकों को जमीनी स्तर पर हो रही कठिनाईयों का संज्ञान लेते हुए इस सम्मेलन के माध्यम से उनकी समस्याओं और उसके समाधान पर मंथन किया जाएगा। महिला पशु चिकित्सकों के इस सम्मेलन को आयोजित करवाने में संघ के अध्यक्ष डॉ. मनोज गौतम और भारतीय पशु चिकित्सा परिषद नई दिल्ली के अध्यक्ष डॉ. उमेश चंद्र शर्मा का विशेष योगदान है।

महिलाएं हर क्षेत्र में आगे है: डॉ शर्मा
डॉक्टर उमेश शर्मा ने बताया कि आज महिलाएं प्रत्येक क्षेत्र में पुरूषों से कंधा से कंधा मिलाकर आगे बढ़ रही है। प्रदेश को विकसित बनाने में जितना सहयोग एक आदमी का रहता है उतना ही सहयोग एक महिला का भी है। उन्होंने कहा कि आज महिलाओं और पुरूषों के श्रम को अलग- अलग करके नहीं देखा जा सकता है।

Source : Agency

आपकी राय

9 + 1 =

पाठको की राय