Thursday, June 20th, 2024

पन्ना में रेत माफिया की दबंगाई ... पांच LNT मशीनें, दो दर्जन डंपर छुड़ा ले गए दबंग

 पन्ना

 

 पन्ना (Panna) में रेत माफिया के खिलाफ प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई की, लेकिन माफिया के लोग जब्त किए गए कई वाहन छुड़ा ले घए. जिले में केन नदी के पानी के बहाव को रोककर नदी में अवैध तरीके से अस्थाई पुल बनाकर खनन किया जा रहा है. पन्ना में रेत घाटों के ठेके इस साल हुए, लेकिन लिया किसी ने नहीं. नदी के दूसरी ओर छतरपुर में ठेका एक कंपनी के नाम है. दबंग यहां नदी को पार कर पन्ना की सीमा में घुसकर अवैध खनन करते हैं.

अवैध खनन की सूचना पर अजयगढ़ क्षेत्र के एसडीएम कुशल सिंह गौतम अपने साथ तहसीलदार, आरआई व पटवारी को साथ लेकर दबिश देने पहुंचे. इस दौरान बीरा पुल के पास SDM ने अवैध खनन होते पाया. वहां 6 LNT मशीनों से पन्ना की सीमा में रेत का खनन हो रहा था. करीब 25 से तीस डंपर भी खड़े थे. जब रेप माफिया ने टीम को देखा तो मशीनों को छतरपुर की सीमा में ले जाना शुरू किया.


एसडीएम कुशल सिंह गौतम ने सुबह तक 5 LNT मशीनें और 25 डंपर जब्त कर लिए. विवाद की स्थिति देखते हुए सुरक्षा के लिए पुलिस बल भी बुलाया गया. SDM का कहना है कि जब तहसीलदार और अन्य कर्मचारी कागजी कार्रवाई कर रहे थे, तभी कलेक्टर ने किसी मीटिंग के लिए बुला लिया. इसके कुछ देर बाद तहसीलदार का फोन आया कि लगभग 15 वाहनों में माफिया के लोग आए और बीस ट्रकों को ले गए. यह भी बताया गया कि यह क्षेत्र हिनौता जिला छतरपुर में आता है, इसलिए जब्ती की कार्रवाई वहां होगी.


SDM मीटिंग निपटाकर फिर मौके पर पहुंचे और एलएनटी व डंपरों की तलाश शुरू की. दिनभर की मशक्कत के बाद प्रशासन 4 एलएनटी मशीनें और दो डंपर व एक ट्रक जब्त कर सका. बीरा चौकी प्रभारी ने जब्त वाहनों को सुपुर्दगी में लेने से मना कर दिया.

एसडीएम ने वरिष्ठ अधिकारियों से संपर्क कर जब्त वाहनों को सुपुर्द किया. जिला खनिज अधिकारी रवि पटेल भी दोपहर को बीरा पहुंचे. उन्होंने बताया कि जो गाड़ियां भाग गईं, उनका हम कुछ नहीं कर सकते. जो वाहन जब्त किए गए हैं, उन पर अवैध खनन के मामले में कार्रवाई की जाएगी. छतरपुर जिले में एक वैध रेत खदान संचालित है.

अजयगढ़ क्षेत्र के थाना प्रभारी बखत सिंह का कहना है कि चार LNT पोकलेन मशीनें, दो डंपर और एक ट्रक SDM द्वारा सुपुर्दगी में दिया गया है, जिसे बीरा पुलिस चौकी में अभिरक्षा में रखा गया है. वहीं अन्य डंपरों के भागने को लेकर टीआई ने कहा कि जैसा एसडीएम प्रतिवेदन देंगे, उसके तहत कार्रवाई की जाएगी. वहीं SDM कुशल सिंह गौतम का कहना है कि अवैध खनन के खिलाफ वह कार्रवाई करते रहेंगे.

घटना को लेकर कलेक्टर ने क्या कहा?

इस मामले में जब कलेक्टर से संपर्क किया तो उन्होंने फोन नहीं उठाया. इसके बाद उनका कॉल आया तो उन्होंने कहा कि वे जरूरी मीटिंग में थे. उन्होंने कहा कि 4 एलएनटी मशीनें और दो डंपर व एक ट्रक जब्त किया गया है. अवैध खनन नहीं होने दिया जाएगा. नदी में बने अस्थाई पुल और रास्ते को भी तोड़ा जाएगा. इन्हें पहले भी हम तोड़ चुके हैं.

Source : Agency

आपकी राय

14 + 5 =

पाठको की राय