Sunday, May 19th, 2024

ये मंत्र है बड़े पॉवर फुल, प्रतिदिन जाप करने से बीपी-डायबिटीज होता है कंट्रोल, स्ट्रेस-थकान में भी कारगर

भारत देश में युगों से मंत्र और श्लोकों का इतिहास रहा है. हमारे वेद-पुराणों में विभिन्न कार्यों एवं विधान के हिसाब से मंत्रों का विभाजन एवं मंत्रोच्चारण की विधि बताई गई है. भारत की हजारों वर्ष पुरानी विरासत को पूरी दुनिया मान चुकी है. माना जाता है कि हर मंत्र के उच्चारण का अपना अलग महत्व है. मंत्रोच्चारण से जीवन के कई कार्य सिद्ध होने के साथ ही अनिद्रा से लेकर रक्तचाप जैसी बीमारियों पर काबू पाया जा सकता है.

 सिर्फ ‘ओम’ शब्द में ही इतनी शक्ति है कि पेट की गहराइयों से निकलने वाला यह सुर अगर सही योगासन के साथ किया जाए, तो कई समस्याओं से निजात दिलाता है. दिमाग को आराम देने के साथ-साथ इस एक शब्द का मंत्र श्वास की नली को साफ करता है. साथ ही डाइजेशन को ठीक रखने वाला भी माना जाता है. सिर्फ यही नहीं ऐसे और भी मंत्र हैं, जो कई रोगों में जपने पर राहत देते हैं. हालांकि गंभीर स्थिति में होने पर डॉक्टर की सलाह जरूर ली जानी चाहिए, लेकिन उन दवाओं के विज्ञान के साथ मंत्रों की हीलिंग पॉवर अगर जुड़ जाए, तो फिर जल्दी राहत मिलने की उम्मीद बंध जाती है. चलिए जानते हैं कि किस मंत्र से किस रोग के लिए मिलती है हीलिंग पॉवर.

योगाचार्य के अनुसार, अगर रक्तचाप पर नियंत्रण रखना चाहते हैं, तो रोजाना एक मंत्र का जाप करें. ये मंत्र भी बहुत छोटा सा है. बीपी पर कंट्रोल रखने के लिए प्रतिदिन ॥ हृीं॥ का जाप करें. इसके अलावा एक अन्य मंत्र का जाप जरूर करें. ये मंत्र है॥ ॐ भवानी पादुरंगा॥ इस मंत्र का जाप रोजाना सुबह खाली पेट कम से कम 21 बार करना चाहिए. शुगर पेशेंट्स को भी बीपी के मरीजों की तरह ॥हृीं॥ मंत्र का जाप करना चाहिए. इस मंत्र के जाप का एक तरीका है, उस तरीके का पालन किया जाना चाहिए. मंत्र का जाप करते समय वज्रासन लगाकर बैठ जाएं. सारा ध्यान अपनी नाभि पर केंद्रित कर दें, अब इस मंत्र का जाप करें.

उन्होंने आगे कहा कि इस मंत्र का जाप जोर से बोलकर भी करने से लाभ होता है. मंत्र उच्चारण का प्रेशर नाभि पर पड़ता है, जो शरीर में बैलेंस बनाते हैं और टॉक्सिन्स को रिलीज कर देते हैं. वहीं दिन भर ऑफिस के काम का स्ट्रेस है, थकान है तो आप ॥लं॥ मंत्र का उच्चारण करें. वैसे तो इसका पांच माला जाप करना चाहिए. ऐसा न भी कर सकें, तो कुछ देर इस मंत्र का जाप करके थकान जरूर मिटा लें. जिन्हें अनिद्रा की समस्या है या फिर नींद बीच बीच में खुल जाती है, तो सोते समय पलंग पर लेट कर ॥ॐ अगस्ती शयीना:॥ मंत्र का जाप करें. मंत्र का जाप करते करते सुकून भरी नींद कब आ जाएगी पता भी नहीं चलेगा.

Source : Agency

आपकी राय

5 + 6 =

पाठको की राय